21 सितंबर : वर्ल्ड क्लीनर्स डे के अवसर पर भारत के सबसे बड़े अभियान की होगी शुरुआत

0

दिल्ली।PNI News। हाल ही में प्रधानमंत्री द्वारा देश में प्लास्टिक के इस्तेमाल को पूरी तरह से रोकने के लिए शुरू किए गए अभियान को बढ़ावा देने के प्रयास में लेट्स 28 वर्ल्ड के इंडियन चैप्टर लेट्स 28 इंडिया ने अपनी तरह के पहले लीडर्स अकैडमी एवं एक अभियान सेल्फी नेटवर्क फॉर क्लीनलीनेस एंड स्टॉप सिंगल यूज़ ऑफ प्लास्टिक का संचालन किया देशभर के युवाओं में सेल्फी के चलन को देखते हुए अधिक से अधिक युवाओं को इस अभियान के साथ जोड़ना और स्वच्छता को बढ़ावा देना इस अभियान का मुख्य उद्देश्य है । दुनिया में व्यर्थ के खिलाफ सबसे बड़े अभियान आगामी वर्ल्ड क्लीनर्स डे को सफल बनाने के लिए कार्यक्रम का आयोजन रशियन सेंटर ऑफ साइंस एंड कल्चर में किया गया । इस साल के स्वच्छता अभियान का विषय है ‘Say no to single use plastics’ यानी एक बार में प्लास्टिक का इस्तेमाल ना करें इस पहल पर अपने विचार अभिव्यक्त करते हुए डॉ सुदीप श्रीवास्तव माननीय प्रिंसिपल एडवाइजर लेट्स दो इंडिया एवं स्वास्थ्य सेवा जगत के दिग्गज ने कहा प्लास्टिक बनाने में इस्तेमाल किए जाने वाले रसायन मानव शरीर के लिए बेहद हानिकारक और विषैले होते हैं प्लास्टिक कई तरीके से खतरनाक है पर्यावरण पर प्लास्टिक के प्रभाव के कारण हवा की गुणवत्ता में गिरावट आ रही है जिसके कारण दिल की बीमारियों और गैर संचारी रोगों का बोझ बढ़ता जा रहा है अपने नए स्वच्छता अभियान के माध्यम से हम प्लास्टिक के एकमात्र इस्तेमाल को भी रोकना चाहते हैं देश भर में स्वच्छता को बढ़ावा देना इस अभियान का उद्देश्य है जिसका सकारात्मक असर पूरी दुनिया पर पड़ेगा साथ ही हम कई खतरनाक समस्याओं से अपने आप को बचा सकेंगे। इस पहल के बारे में बात करते हुए संजय उपाध्याय बोर्ड के चेयरमैन लेट्स डू इंडिया और संस्थापक एवं चेयरमैन एलडीएफ फाउंडेशन।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here